Breaking News
कैबीनेट मंत्री राजभर का दावा, राममंदिर पर अध्यादेश कभी नहीं लाएगी बीजेपी  |   मिशन 2019: बीजेपी की गांव-गांव, पांव-पांव पदयात्रा आज से शुरू।  |   लोकसभा चुनाव से पहले अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी को एक बड़ा तोहफा दे सकते हैं पीएम मोदी।  |   आरएसएस ने फिर रटा राम का नाम कहा 2019 में होगा राम मंदिर का निर्माण, दिल्ली में आज से रथ यात्रा शुरू  |   हनुमान को दलित बताने वाले योगी आदित्यनाथ के बयान पर आजम ने कसा तंज कहा समझ नहीं आ रहा रोएं या हसें  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
18/05/2018  :  21:54 HH:MM
'हाथ' से कर्नाटक छूटने पर राहुल बोले- PAK की तर्ज पर काम कर रही न्यायपालिका
Total View  142

राहुल गांधी ने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जजों को जनता के सामने अपनी बात रखने के लिए आना पड़ा.

 कर्नाटक में फैसले के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की एक आपत्तिजनक टिप्पणी की है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय न्यायपालिका का मज़ाक उड़ाते हुए उसकी तुलना पाकिस्तान की न्यायपालिका से की. दो दिन के छत्तीसगढ़ दौरे पर रायपुर पहुंचे राहुल ने एक रैली को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीजेपी और आरएसएस देश की संस्थाओं को कमज़ोर करने की कोशिश कर रही हैं.

 

उन्होंने कहा, 'आरएसएस देश की हर संस्थान में अपना रास्ता बना रही है. ऐसा पाकिस्तान या तानाशाही में होता है.' राहुल गांधी ने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जजों को जनता के सामने अपनी बात रखने के लिए आना पड़ा.

 

राहुल ने कहा कि प्रेस के साथ ही भाजपा सांसद भी प्रधानमंत्री मोदी से डरते हैं. राजधानी रायपुर में राजीव गांधी पंचायती राज सम्मेलन को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने किसानों की कर्ज माफी के मुद्दे पर वित्तमंत्री अरुण जेटली पर भी निशाना साधा. राहुल गांधी ने कहा कि देश की संवैधानिक संस्थाओं को मोदी सरकार आरएसएस के लोगों से भर रही है, लेकिन कांग्रेस के शासनकाल में कभी ऐसा नहीं किया गया.

 

राहुल ने कहा- 'सरकार का ऐसा तानाशाही रवैया सिर्फ पाकिस्तान और अफ्रीकी देशों में ही देखने को मिलता है.

रायपुर में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, प्रदेश प्रभारी पीएल पुलिया सहित कई कांग्रेसी नेता मौजूद हैं. कार्यक्रम में आदिवासी नेता अरविंद नेताम भी मौजूद हैं, जो आज कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर सकते हैं. इस कार्यक्रम के बाद राहुल गांधी सीतापुर, सरगुजा संभाग के लिए रवाना होंगे. सीतापुर में किसान आदिवासी सम्मेलन का आयोजन होगा.

 

सीतापुर के बाद राहुल गांधी हेलीकॉप्टर से बिलासपुर जिले के मरवाही विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कोटमिकला पहुंचेंगे, जहां जंगल सत्याग्रह आदिवासी रैली होगी. इसी विधानसभा में आज पूर्व सीएम अजीत जोगी भी सभा कर रहे हैं. इसको लेकर चर्चाओं का दौर है.

 

------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

 

बैंक ऑफ इंग्लैंड के गर्वनर नहीं बनना चाहते रघुराम राजन, कहा- मैं टीचर बनकर ही खुश हूं

 

नई दिल्ली.भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन ने बैंक ऑफ इंग्लैंड के गर्वनर पद के लिए अप्लाई नहीं करेंगे। उन्होंने कहा है, 'मुझे उसकी कोई जरूरत नहीं है। मैं जहां हूं, खुश हूं।' राजन ने साफ किया है कि उनकी शिकागो यूनिवर्सिटी में जॉब अच्छी चल रही है और वह इससे खुश हैं। बता दें कि बैंक ऑफ इंग्लैंड में अगले साल गर्वनर की कुर्सी खाली हो रही है। इसके पद की दौड़ में दुनिया के टॉप बैंकर्स में से एक रघुराम राजन का नाम भी शामिल है। बैंक ऑफ इंग्लैंड, भारत के रिजर्व बैंक की तरह ही सेंट्रल बैंक है। प्रोफेशनल बैंकर नहीं हूं...

 

 

- राजन ने कहा है कि वह एक प्रोफेसर हैं और उनके पास शिकागो यूनिवर्सिटी की अच्छी नौकरी है। फिलहाल उनका नौकरी छोड़ने का कोई मन नहीं है। उन्होंने ये भी कहा है कि वह कोई प्रोफेशनल बैंकर भी नहीं हैं। वह एक एकेडमिक हैं। बता दें कि रघुराम राजन सितंबर, 2016 तक भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रह चुके हैं और अब अमेरिका में प्रोफेसर की जॉब कर रहे हैं।

 

2019 में खाली होगा पद

जून 2019 में बैंक ऑफ इंग्लैंड के गवर्नर का पद खाली हो जाएगा। अभी वहां पर मार्क कार्ने गवर्नर है, जो पहले कनाडा के सेंट्रल बैंक में भी प्रमुख रह चुके हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन की सरकार इस पद के लिए उम्मीदवारों की तलाश कर रही है। बैंक ऑफ इंग्लैंड के तीन सदियों के इतिहास में 2013 में पहली बार किसी विदेशी ने इस बैंक के गवर्नर पद संभाला था।

 

कौन है रघुराम राजन?

- रघुराम राजन उन चुनिंदा लोगों में से थे, जिन्होंने 2008 की आर्थिक मंदी की भविष्यवाणी की थी। उनकी भारतीय इकोनॉमी को संभालने के लिए उनकी तारीफ की जाती है।

- उन्होंने 2013 में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर का पदभार संभाला था। इससे पहले भी वे शिकागो यूनिवर्सिटी के बूथ बिजनेस स्कूल में प्रोफेसर थे। जहां वे आरबीआई का कार्यकाल पूरा कर लौट गए।

- मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में जन्में 55 साल के राजन आईआईटी नई दिल्ली, आईआईएम अहमदाबाद और मैसाच्युसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के छात्र रह चुके हैं।

- वह हर जगह गोल्डमेडलिस्ट रहे हैं और बतौर आरबीआई गवर्नर उन्होंने भारत में सोने के आयात को कंट्रोल करने के अलावा नोटबंदी का दौर भी देखा था।

- उनके कार्यकाल में नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स (NPA), बैंकों की अंडर कैपिटलाइजेशन और रुपए को बचाने जैसे फैसलों पर प्राथमिकता दी गई। उस दौरान फॉरेन रिजर्व 100 अरब डॉलर बढ़ा गया था।

- आरबीआई गवर्नर बनने के पहले वह भारत की फाइनेंस मिनिस्ट्री में चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर के रूप में भी काम कर चुके थे।

- दूसरा कार्यकाल मिलने या मिलने के कयासों के बीच राजन ने 2016 में ही घोषणा की थी कि वो उसी साल सितंबर में कार्यकाल खत्म होने के बाद पद से हट जाएंगे।

------------------------------------------------------------------------------

हरियाणा: जेई परीक्षा में जातिगत सवाल पर विवाद, कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष संस्पेड

चंडीगढ़ , हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने जेई परीक्षा में आपत्तिजनक जातिगत सवाल पर ब्राह्मण समाज से माफी मांगते हुए हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के चेयरमैन भारत भूषण भारती को निलंबित कर दिया है। इसके साथ ही सरकार ने मुख्य परीक्षक के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज करवाने और मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने का भी निर्णय लिया है। गुरुवार को विदेश के दौरे से वापस लौटे सीएम मनोहरलाल ने चंडीगढ़ में बीजेपी के ब्राह्मण विधायकों समाज के लोगों के साथ करीब दो घंटे चली बैठक के बाद अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश जारी किये। 

हालांकि मुख्यमंत्री ने इस फैसले से चौबीस घंटे पहले ही भारती से पूरे मामले में फीडबैक लेने के दौरान बड़ा कदम उठाने के संकेत दे दिए थे लेकिन, यह किसी को भी अनुमान नहीं था कि उनको भी निलंबित किया जाएगा। बता दें कि मुख्यमंत्री इससे पहले भारती के बचाव की मुद्रा में दिख रहे थे, लेकिन चंडीगढ़ में बैठक के लिए आए ब्राह्मण समाज के नेताओं और विधायकों की मांग के बाद उन्हें पद से निलंबित करने के आदेश दिये गए। बताया जा रहा है कि भारती को इस मामले की जांच पूरी होने तक निलंबित रखने के आदेश दिया गया है।

 

 

मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश

इधर इस मामले पर प्रदेश के शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा है कि मामले की उच्च स्तरीय जांच होगी और सरकार में मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी इसका नेतृत्व करेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि 10 अप्रेल को जूनियर सिविल इंजीनियर की परीक्षा के लिए प्रश्नपत्र सेट करने वाले मुख्य परीक्षक को पहले ही डीबार कर दिया गया है। इसके अलावा सरकार ने अब मुख्य परीक्षक के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज करने का फैसला लिया है।

 

ब्राह्मण नेताओं ने सरकार से फैसले पर जताई खुशी

सरकार के द्वारा अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई किए जाने के बाद राज्य के ब्राह्मण नेताओं ने इस निर्णय पर खुशी जाहिर की। गुरुवार को हुई इस बैठक में जहां सीएम ने ब्राह्मण समाज से माफी मांगते हुए पूरे प्रकरण को






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2014656
 
     
Related Links :-
'लौह महिला' इंदिरा गांधी की जयंती आज, जानिए-उनके जीवन से जुड़े कुछ खास पहलू
#MeToo: एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमाणी पर ठोका मानहानि का केस
विवादित उपदेशक जाकिर की बढ़ी मुश्किलें, NIA ने संपत्तियां जब्त करने का दिया आदेश
नन बलात्कार मामले के आरोपी बिशप फ्रैंको कोच्चि में गिरफ्तार
तोगड़िया का BJP पर तंज- खुद के लिए 500 करोड़ का बनवाया कार्यालय, रामलला टेंट में विराजमान
माल्या विवाद में जेतली को मिला शिवसेना का साथ, कहा- कांग्रेस के आरोप ‘हास्यास्पद’
तेलंगाना की सभी विधानसभा सीटों पर BJP लड़ेगी चुनाव: शाह
पाक की तारीफ कर घिरे सिद्धू, भाजपा ने कांग्रेस से मांगा जवाब
पाकिस्तान को जबाव दें PM मोदी, कांग्रेस सरकार के साथ
मायावती के आरोपों पर अठावले का तीखा पलटवार, कहा- भारत बंद विपक्ष की चाल
 
CopyRight 2016 DanikUp.com