Breaking News
अखिलेश ने पेश की इंसानियत की मिसाल, कार हादसे में घायल लोगों को पहुंचाया अस्पताल  |   नोडल अधिकारी पहुंचाए सरकार के विकास कार्यक्रम को जन जन तक :योगी ग्रेटर नोएडा इमारत हादसा: CM योगी ने जताया दुख, दिया हर संभव मदद का भरोसा   |   ग्रेटर नोएडा इमारत हादसा: डिप्टी CM केशव मौर्य ने मृतकों के प्रति जताया गहरा दुख ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी में 2 इमारतें गिरी, NDRF की टीम ने 3 शवों को मलबे से निकाला  |   दिल्ली-NCR को दहलाने की थी साजिश, हथियारों का जखीरा बरामद  |   LIVE शो के दौरान महिला के साथ मारपीट करने के आरोप में मौलाना गिरफ्तार  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
30/11/2017  :  21:19 HH:MM
पद्मावती के नायक-नायिका समेत छह के खिलाफ वाद
Total View  68

पद्मावती के नायक-नायिका समेत छह के खिलाफ वाद, अब मुस्लिम समाज खफापद्मावती के नायक-नायिका समेत छह के खिलाफ वाद, अब मुस्लिम समाज खफापद्मावती फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली और कलाकारों के खिलाफ बिजनौर में वाद दायर किया गया है। मुस्लिम समाज ने फिल्म को लेकर विरोध जताया है।

बिजनौर पद्मावती फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली और फिल्म के कलाकारों के खिलाफ नजीबाबाद में वाद दायर किया गया है। विहिप के पूर्व जिलाध्यक्ष और एडवोकेट सुधीर कुमार ने फिल्म पद्मावती के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली, शाहिद कपूर, दीपिका पादुकोण, रणवीर कपूर, अदिली राय हैदर और जिम के विरुद्ध न्यायिक मजिस्ट्रेट नजीबाबाद के न्यायालय में दायर वाद में कहा है कि रानी पद्मावती वीरांगना थी और पूरा हिंदू समाज उन्हें सम्मान की नजर से देखता है। फिल्म में रानी पद्मावती को नर्तकी के रूप में प्रस्तुत कर नारी जाति के अपमान के साथ-साथ राजपूतों के गौरवशाली इतिहास से छेड़छाड़ करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि क्षत्रिय समाज के 36 कुल है और रानी पद्मावती ने सभी 36 कुलों की परदादी हैं। अधिवक्ता सुधीर कुमार ने इतिहास से छेड़छाड़ करने वाले इन सभी लोगों के खिलाफ वाद दायर कर कार्रवाई की मांग की।

अब मुस्लिम समाज खफा

फिल्म पद्मावती के खिलाफ राजपूत समाज का विरोध प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहा है कि इस बीच मुस्लिम समाज ने भी फिल्म को लेकर विरोध जताया है। सहारनपुर में तंजीम उलेमा हिंद के प्रदेश अध्यक्ष मौलाना नदीमुल वाजदी ने फिल्म में सुलतान अलाउद्दीन खिलजी को जालिम बादशाह दिलफेंक आशिक दिखाए जाने पर ऐतराज जताया है। उनका कहना है कि अलाउद्दीन खिलजी एक जिम्मेदार शासक था। फिल्म में उसका चित्रण जिस तरह किया गया है,वह उचित नहीं है। गुरुवार को पत्रकार वार्ता में मौलाना नदीमुल वाजदी ने कहा कि इतिहास में पद्मावती नाम की कोई शख्सीयत नहीं मिलती और ही कोई ऐसा साक्ष्य मिलता है कि अलाउद्दीन पद्मावती नाम की महिला को हासिल करना चाहता था। उन्होंने कहा कि  अलाउद्दीन खिलजी ने चित्तौडग़ढ़ पर हमले की वजह केवल राज्य विस्तार था।

 






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   719251
 
     
Related Links :-
कुंभ मेला कार्यों के दुष्प्रचार के खिलाफ मेला प्रशासन ने लिखाई FIR
लोकसभा चुनाव की तैयारी में पीछे रहने से यूपी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चिंतित
उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज ही नही: अखिलेश
जब अचानक मेरठ के आरटीओ कार्यालय में परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह आ धमके
UP: आकाशीय बिजली गिरने से 4 लोगों की मौत
कर्ज में डूबे एक और किसान ने की आत्महत्या
फरियादी के साथ अच्छा बर्ताव करें अधिकारी: नाईक
सपा MLC महमूद अली, हाजी इकबाल सहित 4 के घरों पर कब्जा करेगा प्रशासन
BJP विधायक के विवादित बोल- राहुल के बाद इटली में पैदा हुआ उनका संभावित बेटा बनेगा कांग्रेस अध्यक्ष
मुन्ना बजरंगी हत्या मामला: मुख्तार अंसारी की सुरक्षा को लेकर उसके परिजनों ने जताई चिंता
 
CopyRight 2016 DanikUp.com