Breaking News
विजय रूपाणी ने की योगी से मुलाकात, UP के लोगों की सुरक्षा का दिलाया भरोसा  |   अडानी के चार्टर प्लेन में UP पहुंचे रूपाणी, राजनीतिक हलचल तेज  |   यूपी-गुजरात के एकता संवाद में बोले योगी-गुजरात देश के विकास का मॉडल  |   राफेल सौदे को लेकर केंद्र की राजग सरकार पर बरसे शत्रुघ्न सिन्हा  |   शाहजहांपुर में गिरी निर्माणाधीन बिल्डिंग को लेकर रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा, 3 की मौत  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
22/06/2017  :  23:58 HH:MM
सन स्क्रीन के ज्यादा इस्तेमाल से हड्डियां - मांसपेशी होती हैं कमजोर
Total View  103

अपनी त्वचा को धूप के दुष्परिणामों से बचाने के लिए सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने वालों के लिए एक बुरी खबर है, सनस्क्रीन के अधिक इस्तेमाल से आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो सकती है

सन स्क्रीन के ज्यादा इस्तेमाल से हड्डियां - मांसपेशी होती हैं कमजोर
दैनिक यूपी ब्यूरो
अपनी त्वचा को धूप के दुष्परिणामों से बचाने के लिए सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने वालों के लिए एक बुरी खबर है, सनस्क्रीन के अधिक इस्तेमाल से आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो सकती है जिसके कारण अापकी मांसपेशियां कमजोर होती हैं और हड्डियां टूटने का भी खतरा रहता है।
जर्नल ऑफ अमेरिकन ऑस्टियोपैथिक एसोसिएशन में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक विश्व में लगभग एक अरब लोग सनस्क्रीन के इस्तेमाल के कारण विटामिन डी की कमी से जूझ रहे हैं।
सनस्क्रीन के अधिक इस्तेमाल के कारण उनका शरीर धूप के संपर्क में नहीं आता और वे विटामिन डी से वंचित रह जाते हैं।
अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित टॉरो यूनिवर्सिटी के सहायक प्रोफेसर किम फोटेनहॉएर ने कहा लोग घरों से बाहर खुले में बहुत कम समय बिता रहे हैं और जब भी वे बाहर निकलते हैं, सनस्क्रीन लगा कर निकलते हैं लिहाजा उनके शरीर की विटामिन डी निर्माण की क्षमता खत्म हो जाती है।
अगर हम चाहते हैं कि लोग त्वचा के कैंसर से अपना बचाव करें तो हमें हल्की धूप में बिना सनस्क्रीन लगाये निकलने की आदत भी डालनी चाहिए ताकि शरीर में विटामिन डी का स्तर बढ़ाने में मदद मिले।
अध्ययन के मुताबिक टाइप टू डायबिटीज, गुर्दे की बीमारियों, क्रोन और सेलियक जैसी बीमारियां खाद्य स्रोतों से विटामिन डी के चयापचय की क्षमता में बड़ी बाधा डालता है।
विटामिन डी का निर्माण तभी होता है जब शरीर सूरज की किरणों के संपर्क में आता है।
विटामिन डी शरीर के क्रियाकलापों में महती भूमिका निभाता है।
यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, प्रदाह को नियंत्रित करने और तंत्रिका एवं मांसपेशियों की कार्यक्षमता में वृद्धि करता है।
अध्ययन के मुताबिक सप्ताह में दो बार दोपहर में पांच से 30 मिनट तक धूप के संपर्क में रहने से विटामिन डी की कमी दूर करने और स्वस्थ जीवन जीने में मदद मिलेगी।
शोधकर्ता इस दौरान सनस्क्रीन का इस्तेमाल नहीं करने की सलाह देते हैं क्योंकि एसपीएफ -15 अथवा इससे अधिक एसपीएफ वाली सनस्क्रीन विटामिन डी3 के उत्पादन को 99 प्रतिशत तक कम कर देती है।
प्रोफेसर किम कहते हैं, आपको ये फायदे लेने के लिए समुद्र तट पर कड़ी धूप में लेटने की जरूरत नहीं है।
ज्यादातर लोगों के लिए हाथ-पैर खुले रखकर धूप में थोड़ी देर टहल लेना ही पर्याप्त है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3270971
 
     
Related Links :-
Festive Special: घर पर खुद बनाएं कपकेक फ्लॉवर लाइट्स
ब्यूटी सीक्रेट्स: किचन की छोटी-छोटी चीजों से पाएं
Hair Care: बालों को झड़ने से रोकेगा नारियल-शहद का पेस्ट
क्या आपकी सोने की पोजिशन आपको बूढ़ा बना रही है?
वजन घटाने के लिए खूब खाइए गोलगप्पे
नुकसान भी कर सकती है सनस्क्रीन, ध्यान रखें ये जरूरी बात
स्मार्ट और क्रिएटिव तरीके से इस्तेमाल करें सीढ़ियों के नीचे की Space
हर फल खाने का होता है सही समय, तभी मिलता है फायदा
मोटापे और डायबिटीज जैसी बीमारियों को जड़ से खत्म करने के लिए रोजाना करें यह 1 आसन
एेसे करेंगे जामुन का सेवन तो दूर होगी ये 5 हेल्थ प्रॉब्लम्स
 
CopyRight 2016 DanikUp.com