Breaking News
विजय रूपाणी ने की योगी से मुलाकात, UP के लोगों की सुरक्षा का दिलाया भरोसा  |   अडानी के चार्टर प्लेन में UP पहुंचे रूपाणी, राजनीतिक हलचल तेज  |   यूपी-गुजरात के एकता संवाद में बोले योगी-गुजरात देश के विकास का मॉडल  |   राफेल सौदे को लेकर केंद्र की राजग सरकार पर बरसे शत्रुघ्न सिन्हा  |   शाहजहांपुर में गिरी निर्माणाधीन बिल्डिंग को लेकर रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा, 3 की मौत  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
22/06/2017  :  20:41 HH:MM
भारत ने कहा कश्मीर में किसी का दखल मंजूर नही
Total View  105

भारत ने आज स्पष्ट किया कि कश्मीर समस्या के समाधान के लिए किसी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता की जरूरत नहीं है और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरस को भी भारत के इस रुख से अवगत करा दिया गया है।

भारत ने कहा कश्मीर में नही मंजूर किसी का दखल
दैनिक यूपी ब्यूरो
भारत ने आज स्पष्ट किया कि कश्मीर समस्या के समाधान के लिए किसी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता की जरूरत नहीं है और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरस को भी भारत के इस रुख से अवगत करा दिया गया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने नियमित ब्रीफिंग में संवाददाताओं के यह पूछे जाने पर कि क्या संयुक्त राष्ट्र महासचिव कश्मीर समस्या के समाधान के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता कर रहे हैं, यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, भारत का इस मुद्दे पर रुख एकदम स्पष्ट है कि द्विपक्षीय मुद्दों का समाधान द्विपक्षीय बातचीत से ही किया जा सकता है और यह बात संयुक्त राष्ट्र महासचिव को भी बता दी गयी है। उल्लेखनीय है कि श्री गुटरेस ने हाल ही में न्यूयार्क में संवाददाताओं के सवाल के जवाब में कहा था कि वह कश्मीर मुद्दे के समाधान के संबंध में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से तीन बार और भारत के प्रधानमंत्री से दो बार मिल चुके हैं। श्री गुटेरस ने इसी महीने 3 तारीख को रूस में श्री मोदी से मुलाकात की थी। सूत्रों के अनुसार समझा जाता है कि इस मुलाकात के दौरान ही श्री मोदी ने श्री गुटेरस को इस मुद्दे पर भारत के रुख से अवगत करा दिया था। श्री गुटेरस शंघाई सहयोग संघ की बैठक में भी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और श्री मोदी से मिले थे। श्री गुटेरस और श्री मोदी की अगले महीने जर्मनी में जी- 20 शिखर सम्मेलन में भी मुलाकात होने की संभावना है। ज्ञात हो कि संयुक्त राष्ट्र कश्मीर के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता के सवाल पर हमेशा से सतर्क प्रतिक्रिया करता रहा है क्योंकि भारत हमेशा से कहता रहा है कि कश्मीर मुद्दे का समाधान द्विपक्षीय स्तर पर ही हो सकता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2670158
 
     
Related Links :-
मेरे पास मोदी है
अमेरिका का पिट्ठू न बने भारत
तिलक तराजू और तलवार..रूठ गए तो
क्या सवर्ण होना गुनाह है?
ये तो बेटी ही सोना है
स्वतंत्रता पुकारती: जश्न किसलिए?
चुनावी मौसम में काम करेगा शराबबंदी का शिगूफा!
खत्म करो जनता का खून चूसने वाला भ्रष्टाचार
प्रद्युम्न हत्याकांड: क्या सीबीआई गढ़ रही है कहानी?
पठानकोट और 26/11 के दोषियों पर कार्रवाई करे पाक - भारत,अमेरिका
 
CopyRight 2016 DanikUp.com